------------------------------------------------------------------- Computer Kaise Sikh आसान तरीके से चलाना | - Shiva Technical
You are here
Home > Daily News >

Computer Kaise Sikh आसान तरीके से चलाना |

computer kaise sikh

सबसे पहले कंप्यूटर का परिचय 

यदि आप कंप्यूटर चलाना सीखना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको यह जानना होगा कि कंप्यूटर के विभिन्न भागों के साथ-साथ एक कंप्यूटर क्या है। जब भी आप कंप्यूटर चलाना सीखते हैं, तो सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर दो बहुत महत्वपूर्ण शब्द हैं जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए। आज की इस पोस्ट में, हम इन सभी के बारे में बात कर रहे हैं। कंप्यूटर को चलाने का तरीका जानने के लिए, आप नीचे दिए गए विषयों को एक-एक करके पढ़ें, आप धीरे-धीरे कंप्यूटर के चरणबद्ध तरीके से जाएंगे।

  Computer Parts

  • Computer Kya hota hai सबसे पहले कंप्यूटर का परिचय जान लेते हैं कंप्यूटर शब्द अंग्रेजी के “Compute” शब्द से बना है, जिसका अर्थ है “गणना”, करना होता है इसीलिए इसे गणक या संगणक या अभिकलक यंत्र भी कहा जाता है और इसका अविष्‍कार Calculation करने के लिये हुआ था सीधी भाषा मेंं कंप्‍यूटर Calculation करने वाली मशीन थी, जैसे आपका कैलकुलेटर –
  • Hardware: Computer के Physical elements जिन्हें हम देख व छू सकते है “Hardware” कहलाते है. उदाहरण के लिये Keyboard, Mouse, Monitor, Printer, Motherboard, RAM, ROM, CpU इत्यादि 
  • Keyboard :  कीबोर्ड: कंप्यूटर उस कीबोर्ड का हिस्सा होता है जिसका उपयोग हम कुछ भी लिखने या टाइप करने के लिए करते हैं। कीबोर्ड के बिना, कंप्यूटर को संचालित या संचालित किया जा सकता है, लेकिन आप कीबोर्ड का उपयोग करके जितना आसानी से लिख सकते हैं उतना आसानी से नहीं लिख पाएंगे। कंप्यूटर कीबोर्ड की उपयोगी कुंजियों को जानें
  • Mouse :  माउस कंप्यूटर का वह भाग है जिसके साथ हम Cursor को स्थानांतरित करते हैं। चूहा बिल्कुल चूहे जैसा दिखता है, इसीलिए इसका नाम चूहा है। कंप्यूटर को बिना माउस के चलाया जा सकता है लेकिन उस समय हमारे लिए कीबोर्ड का उपयोग करना आवश्यक हो जाता है।
  • Monitor मॉनिटर कंप्यूटर का वह हिस्सा है जिसमें हम देखते हैं जो टीवी की तरह है। LED, Lcd और Plasma जैसे कई तरह के मॉनिटर हैं। एक कंप्यूटर मॉनिटर के बिना चल सकता है, लेकिन अगर आपको कुछ भी नहीं दिखता है, तो क्या उपयोग है?
  • Printer: Printer Computer  का वो हिस्सा है जिससे हम प्रिंट निकलते है. जब भी हमें Scanner या कंप्यूटर के फाइल का प्रिंट निकलना होता है तो हम इसी का उसे करते है. Computer Printer के बिना चल सकता है.
  • Motherboard:  मदरबोर्ड हमारे Cpu (सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट) का एक बहुत बड़ा हिस्सा है। जिसके साथ हमारे कंप्यूटर के सभी भाग जुड़े हुए हैं। MOTHERBOARD के बिना, आप अपने CPU में प्रोसेसर और मेमोरी नहीं जोड़ सकते। मदरबोर्ड को हम सर्किट बोर्ड भी कह सकते हैं।
  • RAM :  RAM का पूरा नाम Random Access Memory होता हैं. इसे Main Memory और प्राथमिक मेमोरी भी कहते हैं. RAM में CPU द्वारा वर्तमान में किये जा रहे कार्यों का डाटा और निर्देश Store रहते हैं. यह मेमोरी CPU का भाग होती हैं. इसलिए इसका डाटा Direct Access किया जा सकता है.
  • ROM :  ROM का पूरा नाम Read Only Memory होता हैं. अर्थात इसका डाटा केवल Read किया जा सकता हैं. इसमे नया डाटा जोड नही सकते हैं. क्योंकि इसे Manufactures द्वारा ही एक बार Write करके दिया जाता हैं.
  • CPU :  Cpu ( Central Processing Unit ) कंप्यूटर का सबसे एहम हिस्सा होता है. जिसको कंप्यूटर का Brain भी बोला जाता है. आप जो कंप्यूटर पर वर्क करते हो उसका सारा Data Cpu में ही स्टोर होता है. Computer Cpu के बिना नहीं चलेगा क्युकी Monitor , Mouse , Keyboard , Etc Devices के Wire Cpu से ही Connected होते है.
  • UPS Ups कंप्यूटर का वो हिस्सा है जो Emergency में Electric Power देता है. मतलब अगर आप कंप्यूटर इस्तेमाल कर रहे हो और एकदम से लाइट चली जाये तो UPS आपको अपने काम को सेव करने का टाइम देता है. ये एक Inverter ही है अगर आपका यूपीएस अच्छा हो तब आपको लाइट जाने के बाद 10M-2Hr का Backup दे सकता है कंप्यूटर उसे करने के लिए. यूपीएस के बिना कंप्यूटर चल सकता है जब लाइट हो.
  • Scanner स्कैनर कंप्यूटर हिंसा है, यह ज्यादातर कार्यालयों और दुकानों में होता है और इसमें हम उस पेज को डालते हैं जिसे हम प्रिंट करते हैं और फिर कंप्यूटर में हम कमांड देते हैं ताकि कागज पर उस फोटो की कॉपी मिल जाए।

Software :  सॉफ्टवेयर, निर्देशों तथा प्रोग्राम्स का वह समूह है जो कम्प्युटर को किसी कार्य विशेष को पूरा करने का निर्देश देता हैं. यह युजर को कम्प्युटर पर काम करने की क्षमता प्रदान करता हैं. सॉफ्टवेयर के बिना कम्प्युटर एक निर्जीव हैं.

Softwareकितने प्रकार के होते है?

  1. System Software
  2. Application Software
  • Operating System :  दोस्तों Microsoft Windows की अगर बात करें तो यह एक ग्राफिकल इंटरफ़ेस ऑपरेटिंग सिस्टम है, जिसे की माइक्रोसॉफ्ट कॉरपोरेशन (Microsoft Corporation ) नाम की एक प्रसिद्ध आईटी कंपनी ने develop किया था अर्थात बनाया था. Microsoft Windows एक बहुत ही फ्रेंडली, पॉपुलर और सबसे ज्यादा इस्तेमाल में आने वाला ऑपरेटिंग सिस्टम है. दोस्तों यह अपने बेहतरीन ग्राफिकल डिस्प्ले और दूसरे फीचर्स की वजह से सभी लोगों के बीच बहुत ही ज्यादा मशहूर है. Microsoft windows graphical OS के आने से से पहले यूजर्स MS-DOS OS के कमांड लाइन पर काम किया करते थे.computer kaise sikh

एक बार जब आप इन सभी विषयों के बारे में पढ़ लेते हैं, तो आपको कंप्यूटर का बुनियादी ज्ञान मिल जाएगा, फिर आप कंप्यूटर चलाना सीखना शुरू करेंगे और इसके लिए विंडोज़ ऑपरेटिंग सिस्टम सबसे अच्छा है। अगर आपके कंप्यूटर में विंडोज 7 का ऑपरेटिंग सिस्टम इंस्टॉल है तो यह बहुत अच्छा है।

Top